भारत का संविधान किस देश से लिया गया है

संविधान दिवस : इन 10 देशों से लिया गया है भारतीय संविधान

bharat ka samvidhan kis desh se liya gaya hai
यूएसए के संविधान से क्या लिया गया है

लिखित संविधान संविधान की मांग सर्वप्रथम ब्रिटेन के जनता के द्वारा किया गया परंतु विश्व का प्रथम लिखित संविधान अमेरिका के द्वारा निर्मित किया गया।

 भारत के संविधान में लिखित संविधान है लेकिन सविधान की व्यवस्था भारत में यूएसए के संविधान से ले लिया है।

मौलिक अधिकार

एक व्यक्ति के व्यक्तित्व के संपूर्ण विकास के लिए जिन अधिकारो की आवश्यकता होती है उसे मौलिक अधिकार कहा जाता है। 
जैसे -जीवन जीने की स्वतंत्रता धार्मिक स्वतंत्रता

सबसे पहले मौलिक विकास का वर्णन अमेरिका के संविधान में किया गया है। अमेरिका के संविधान से ही भारत में मौलिक अधिकार को लिया।

स्वतंत्र न्यायपालिका

सरकार के तीन अंग होते हैं 
  • विधायिका
  • कार्यपालिका 
  • न्यायपालिका

विधायक का कानून बनाती है कार्यपालिका उस कानून को लागू करती है । न्यायपालिका कार्य को यह देखना होता है कि विधायिका कार्यपालिका संविधान के आधार के अनुसार कार्य कर रहे हैं कि नहीं।

यूएसए में विधायिका, कार्यपालिका, न्यायपालिका से स्वतंत्र है 

भारत का न्यायपालिका भी विधायिका , कार्यपालिका से स्वतंत्र है। 

अतः स्वतंत्र न्यायपालिका की व्यवस्था भारत ने यूएसए से लेकर लिया है 

न्यायिक पुनर्विलोकन

जब संसद कोई ऐसा कानून बनाते हैं जो न्यायपालिका की दृष्टि में संविधान के अनुसार नहीं है तो ऐसे कानून को न्यायपालिका को निरस्त कर सकती है इस प्रक्रिया को न्यायिक पुनर्विलोकन कहा जाता है ।

न्यायिक पुनर्विलोकन के प्रर्वधान भारत ने यूएसए के संविधान से लिया है।

राष्ट्रपति को हटाने की प्रक्रिया

भारत के राष्ट्रपति को हटाने के लिए संसद में महाभियोग लाया जाता है महाभियोग की प्रक्रिया भारत के USA के संविधान से लिया है।

उच्चतम न्यायालय तथा उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों जजों को हटाने की प्रक्रिया

भारत में उच्च न्यायालय तथा उच्चतम न्यायालय के जजों को हटाने की प्रक्रिया यूएसए के संविधान से लिया गया है

उपराष्ट्रपति की व्यवस्था

उपराष्ट्रपति की व्यवस्था भारत में विश्व के संविधान से लिया गया है

USA के संविधान से लिया गया कानून व्यवस्था की लिस्ट

  1. लिखित संविधान 
  2. मौलिक अधिकार 
  3. स्वतंत्र न्यायपालिका 
  4. न्यायिक पुनर्विलोकन 
  5. राष्ट्रपति को हटाने की प्रक्रिया 
  6. उच्चत्म न्यायालय तथा उच्च न्यायालय के न्यायाधीश को हटाने की प्रक्रिया
  7. उपराष्ट्रपति की व्यवस्था

आयरलैंड के संविधान से क्या लिया गया है

नीति निर्देशक तत्व

नीति निर्देशक तत्व दिशा निर्देशक होता है यह केंद्र तथा राज्य सरकार को यह निर्देश देता है कि संविधान में वर्णित विषय में कानून बनाऍ।
नीति निदेशक तत्व आयरलैंड के संविधान से भारत ने लिया है।

राष्ट्रपति के चुनाव की पद्धति

भारत में राष्ट्रपति के चुनाव में लोकसभा के निर्वाचित सदस्य राज्यसभा के निर्वाचित सदस्य तथा विधानसभा के निर्वाचित सदस्य भाग लेते हैं यह चुनाव में लोक सभा राज्यसभा तथा विधान सभा के मनोनीत सदस्य भाग नहीं लेते साथ ही साथ लेते हैं राज्यों के विधानसभा के इस चुनाव में भाग नहीं लेते।

राष्ट्रपति के चुनाव की यह पद्धति भारत आयरलैंड के संविधान से लिया है।

राज्यसभा में 12 सदस्य को मनोनीत

भारत में दो सदन की व्यवस्था है उच्च सदन तथा निम्न सदन राज्यसभा को उच्च सदन कहा जाता है तथा लोकसभा को निम्नसभा कहां जाता है राज्यसभा में 12 सदस्य को मनोनीत राष्ट्रपति के द्वारा होता है लोकसभा में भी दो सदस्यों का मनोनयन राष्ट्रपति के द्वारा होता है।

 राज्यसभा में 12 सदस्यों की व्यवस्था आयरलैंड के दौरान से भारत ने लिया है

आयरलैंड के संविधान से क्या लिया गया है

राज्य के नीति निर्देशक तत्व 
राष्ट्रपति के चुनाव की पद्वति
राज्यसभा में 12 सदस्यों के मनोयन 

कनाडा के संविधान से क्या लिया गया है

संधीय व्यवस्था

भारत में संघीय व्यवस्था है संविधान का अनुच्छेद 1 के अनुसार भारत या इंडिया राज्यों के संघ है यह संघीय व्यवस्था भारत में कनाडा के संविधान से लिया है।

अवशिष्ठ शक्तियां केंद्र के पास

भारत के संविधान में तीन सूचियां है

संघ सूची - इस सूची के विषयों पर केंद्र सरकार कानून बनाती है।

राज्य सूची - इस सूची के विषय पर राज्यसभा कानून बनाते हैं

समवर्ती सूची - सूची के विषय का केंद्र तथा राज्य दोनों कानून बना सकते हैं।

अगर एक ही विषय पर केंद्र राज्य और राज्य दोनों कानून बनाते हैं तो केंद्र का कानुन मानना जाता है।

इन तीनों सूची में वर्णित विषय के अतिरिक्त विषय पर कानून बनाने की शक्ति संविधान के द्वारा केंद्रीय की गई है इस शक्ति को अवशिष्ट शक्ति कहा जाता है।
अवशिष्ठ शक्ति की व्यवस्था भारत ने कनाडा के संविधान से लिया है।

केंद्र द्वारा राज्यपालों की नियुक्ति

भारत में राज्यपाल की नियुक्ति राष्ट्रपति के द्वारा मंत्रिमंडल के समय से की जाती है राज्यपाल की अनुमति व्यवस्था भारत ने कनाडा के संविधान से लिया है

कनाडा के संविधान 

  1. संघीय व्यवस्था 
  2. अवशिष्ठ शक्तियाँ केन्द्र के पास
  3. केन्द्र के द्रारा राज्यपालो कि नियुक्ति

ऑस्ट्रेलिया का संविधान से क्या लिया गया है

समवर्ती सूची 

समवर्ती सूची की व्यवस्था भारत में ऑस्ट्रेलिया के संविधान से लिया है

संयुक्त बैठक की व्यवस्था 

भारत के संविधान के अनुच्छेद 108 में यह व्यवस्था की गई है जब किसी विषय पर दोनों सदनों के सदस्यों के बीच मतभेद हो तो उस विषय पर दोनों सदनों के सदस्यों के संयुक्त बैठक बुलाई जाए।

संयूक्त बैठक व्यवस्था ऑस्ट्रेलिया के संविधान से लिया गया है।

प्रस्तावना की भाषा

समवर्ती सूची
 संयुक्त बैठक की व्यवस्था
 प्रस्तावना की भाषा

जर्मनी के संविधान से क्या लिया गया है

जर्मनी के सविधान को वाइमर संविधान कहा जाता है।

आपात उपबंध

 आपात का अर्थ होता है संकट जर्मनी के संविधान में आपात उपबंध की चर्चा की गई है। इसमें कहा गया है जब इस राष्ट्र पर कोई संकट आएगा तो सभी भौतिक मौलिक अधिकार जनता को नहीं दिया जा सकता है इस आपात उपबंध को भारत ने जर्मनी के वाइमर संविद्यान से लिया है।

रूस के संविधान से लिया गया अनुच्छेद

प्रस्तावना में लिखित सामाजिक राजनीतिक तथा आर्थिक न्याय जैसे शब्द रूस के संविधान से लिया गया।

मूल कर्तव्य की चर्चा मालिक सावधान में नहीं 42 वें संविधान संशोधन 1976 के द्वारा मूल कर्तव्यों को जोड़ा गया।
 सरदार स्वर्ण सिंह समिति की सिफारिश पर मूल कर्तव्य को जोड़ा गया

फ्रांस के संविधान से क्या लिया गया है

गणतांत्रिक व्यवस्था

किसी देश का राष्ट्राध्यक्ष अनुवांशिक ना होकर अगर जनता के द्वारा चुना जाता है तो इस प्रकार की व्यवस्था को गए तांत्रिक व्यवस्था कहा जाता है गणतंत्र व्यवस्था को फ्रांस के संविधान से लिया गया है।

ब्रिटेन में लोकतंत्र तो है परंतु गणतंत्र नहीं है क्योंकि ब्रिटेन के राष्ट्राध्यक्ष अनुवांशिक महारानी होते हैं।

समानता, स्वतंत्रता, बंधुता

फ्रांसीसी क्रांति से 3 शब्द निकले थे समानता स्वतंत्रता तथा बंद होता है तीनों से फ्रांस के संविधान में वर्णित है।

भारत के संविधान के प्रस्तावना में समानता स्वतंत्रता तथा बन्धुता जैसे सब उपस्थित है तीनों शब्दसे फ्रांस के संविधान से लिए गए हैं।

दक्षिण अफ्रीका के संविधान से क्या लिया गया है

संविधान संशोधन की प्रक्रिया

भारतीय संविधान के अनुच्छेद 368 मे संविधान संशोधन का उल्लेख संविधान संशोधन की प्रक्रिया दक्षिण अफ्रीका के संविधान सें भारत ने लिया।

जापान के संविधान से क्या लिया गया है

विधि द्वारा स्थापित प्रक्रिया भारत ने जापान के संविधान से लिया है

मुख्य बिंदु

भारत का संविधान विश्व का सबसे लिखित संविधान है सबसे छोटा लिखित संविधान अमेरिका का है जिसमें केवल 7 अनुच्छेद है भारत के मूल अनुच्छेदों में 395 अनुच्छेद है

प्रस्तावना का दर्पण रूसी क्रांति तथा फ्रांसीसी क्रांति से प्रभावित दिखती है।
रूसी क्रांति के सामाजिक आर्थिक तथा राजनीतिक न्याय जैसे तत्व के लिए लिए गए हैं तो दूसरी ओर फ्रांसीसी क्रांति तथा समानता स्वतंत्रता तथा बंधुत्व लिए गए थे।