भारतीय संविधान क्या है

Bhartiya sanvidhan kya hai
भारतीय संविधान क्या है

भारतीय संविधान एक ऐसा कानून दस्तावेज होता है जिसके आधार पर किसी देश का शासन चलाया जाता है ।
 संविधान दो प्रकार का होता है ।

1.  लिखित संविधान
2.अलिखित संविधान


 1.लिखित संविधान 

ऐसा संविधान जो ग्रंथों के रूप में हो उसे लिखित संविधान कहते हैं विश्व का सबसे पहला लिखित संविधान अमेरिका का है भारत फ्रांस कनाडा जर्मनी चीन आदि देशों का संविधान भी लिखित संविधान है।


 2. अलिखित संविधान 

ऐसा सविधान जो ग्रंथ के रूप में नहीं लिखा गया हो उसे लिखित संविधान कहते हैं । ब्रिटिश का संविधान अलिखित संविधान है । यद्यपि ब्रिटेन का संविधान अलिखित है । परंतु समय पर ब्रिटेन की संसद कानून बनाती रहती हैं और उन्हें कानूनों के आधार पर ब्रिटेन का शासन चलता है । प्राचीन काल में शासक धर्म के आधार पर शासन किया करते थे अशोक का धाम नैतिक आचरण का संग्रह ही था ।भारत का प्रथम कानून का ग्रंथ मनुस्मृति को माना जाता है इस ग्रंथ को मनु ने संस्कृत में लिखा है।

                "संविधान का निर्माण "

  
संविधान सभा-

 किसी भी देश के संविधान का निर्माण संविधान सभा के द्वारा किया जाता है । भारत के संविधान का निर्माण भी इस विधानसभा के द्वारा ही हुआ है।
 1922 ईस्वी में सबसे पहले गांधीजी ने यह कहा था कि भारत का संविधान भारत के लोग बनाएंगे अतः उन्होंने अंग्रेजों से मांग की थी कि संविधान निर्माण के लिए एक संविधान सभा का गठन किया जाए।

 --1924 में मोतीलाल नेहरू ने ब्रिटिश सरकार से यह मांगा कि भारतीय संविधान के निर्माण के लिए एक सविधान सभा का गठन किया जाना चाहिए।
 -- 1934 में वामपंथी नेता डॉ. एम एन राय ने सविधान सभा के गठन की मांग अंग्रेज से की।
 --1935 में कांग्रेस ने आधिकारिक तौर पर संविधान सभा के गठन की मांग अंग्रेजों से रखी पुनः 1936 ,1937 तथा 1938 में कांग्रेस ने अपने संविधान सभा के गठन को मांग को दोहराई I1938 में कांग्रेस की ओर से जवाहरलाल नेहरू ने संविधान सभा की मांग रखी थी जिसे ब्रिटेन की संसद ने स्वीकार  ले अगस्त प्रस्ताव 1940 कहां जाता है।

 क्रिप्स मिशन 1942 --: अगस्त प्रस्ताव 1940 में ब्रिटेन की संसद में भारत में संविधान सभा के निर्माण के लिए सैद्धांतिक रूप से तैयार हो गई थी अतः 1942 में ब्रिटेन की संसद ने क्रिप्स मिशन को भारत भेजा। जो इनके तीन सदस्य थे :
 1.स्टैफोर्ड क्रिप्स (अध्यक्ष)
 2.सर पैथिक लारेंस
 3. ए .वी.एलेक्जेण्डर


 क्रिप्स मिशन ने भारत आकर यह कहा कि द्वितीय विश्व युद्ध के बाद भारत में संविधान सभा का गठन किया जाएगा क्रिप्स के इस  प्रस्ताव से कांग्रेसियों सहमत हो गए परंतु मुस्लिम लीग ने इसे अस्वीकार कर दिया ।मुस्लिम लिंग का नेता जिन्होंने या मांग रखी की।भारत को दो राज्यों में विभाजित कर दिया जाए तथा दोनों राज्यों के लिए अलग-अलग सविधान सभा का गठन किया जाए क्रिप्स मिशन असफल होकर ब्रिटेन वापस लौ गया ।
 पुनः 1946 में ब्रिटेन के सांसद ने कैबिनेट मिशन को भारत भेजा भारत आकर कैबिनेट मिशन सविधान सभा के निर्माण के लिए एक प्रस्ताव रखा जिसे कांग्रेस एवं मुस्लिम लिंग दोनों ने स्वीकार कर लिया ।

This Is The Oldest Page